Shami Plant - शनिदेव की कृपा पाने का सबसे आसान और रामबाण उपाय हैं शमी पौधा

शनिदेव का स्थान ग्रहों में में सबसे ऊपर है। जिनकी दृष्टि किसी पर पड़ जाए तो वह आजीवन दुख झेलता है लेकिन जब शनिदेव की कृपा किस पर हो जाती है तो उसके जैसा खुशनसीब भी कोई नहीं होता।. वैसे तो शनि देव बड़े ही दयालु है लेकिन कई लोगों की कुंडली में पहले से ही दोष होता है, जिससे उनके बिगड़े काम नहीं बन पाते और शनि प्रकोप उन्हें आजीवन दुख देता है। आज हम आपको शनिदेव के प्रकोप को कृपा में बदलने का सबसे आसान तरीका बताने जा रहे हैं। जी हां, जिसे करने में आपको कोई भी जद्दोजहद नहीं करनी पड़ेगी। चलिए तो जानते हैं शनिदेव की कृपा पाने का सबसे आसान व रामबाण उपाय शमी पौधे के बारे में।

शमी का पौधा - शनिदेव को शमी का पेड़ है प्रिय

जिस प्रकार हर देवता का कोई ना कोई सवारी होती है और वो किसी ना किसी अस्त्र से शोभित होते हैं। ठीक उसी प्रकार देवताओं के पौधे भी होते हैं। जैसे श्री विष्णु भगवान को केले का पेड़ प्रिय होता है। शंकर जी को बेलपत्र और श्री गणेश जी को आखा, वैसे ही श्री शनिदेव को शमी का पेड़ सबसे प्रिय होता है। शमी के पौधे के पूजन करने से भगवान की कृपा बरसती है और कोई भी ग्रह जातक को परेशान नहीं कर पाता है। आपको बता दें कि शमी का पेड़ बड़ा ही गुणकारी और आयुर्वेदिक होता है। जिसमें सभी देवी-देवताओं का वास होता है। शमी का पेड़ श्री गणेश और शनि देव को सबसे ज्यादा प्रिय है, जो लोग श्री शनिदेव की दृष्टि से दुखी रहते हैं और उनके चाह कर भी बिगड़े काम नहीं बन पाते, उन्हें बिना देर करें अपने घर ही या मंदिर में जाकर रोजाना शमी पेड़ की पूजा करनी चाहिए।

ऐसे करें शमी के पेड़ का पूजन

यदि संभव हो सके... तो घर पर भी शमी का पौधा लगा सकते हैं लेकिन जरूरी नहीं है आप श्री शनिदेव के मंदिर में जाकर शमी के पौधे का नित्य नियम से पूजन करें और पूजन में एक थाल सजाएं और उसमें हल्दी, रोली, चंदन, तेल की ज्योति, कलावा और एक जल का कलश लेकर रखें...और मंदिर में जाकार शमी को जल अर्पित करके.. रोली, चंदन लगाएं और कलावा बांधकर तेल की ज्योति जलाएं। ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होंगे और आप पर कृपा बरसाएंगे।

शमी पौधे के गुण

1.  शमी का पौधा तुलसी की तरह गुणकारी होता है। इसके पंचांग फूल, पत्ते, जड़े, टहनियां और रसा का इस्तेमाल करके शनि प्रकोप से मुक्ति पाई जा सकती है।

2.  शमी का पौधा घर में लगाने से सुख-शांति का निवास होता है और बुरी दृष्टि घर पर नहीं पड़ती।

3.  शमी के अन्दर सभी देवताओं का वास होता है, इसलिए इसमें वो सभी पाए जाते है जो इंसान को सुख, शांति, समृद्धि प्रदान करता हैं।

4.  यदि किसी के घर पर शमी का पौधा हो तो वास्तु से मुक्ति पाने के साथ-साथ काली नजर से भी शमी का पौधा बचाता है। 

यदि आप चाहते हैं शनिदेव आप पर कृपा करें शमी के पौधे का पूजन करें और अपने जीवन को सुखमय बना लें।

घर में किस  दिशा में लग्न हैं यह चमत्कारी पौधा, अभी जाने हमारे जाने मने वैदिक ज्योतिषाचार्यो से!

शमी पौधे के गुण और फायदों के बारे में जानने का अंग्रेजी अनुवाद पढ़े

Recently Added Articles
क्रिसमस डे 2019
क्रिसमस डे 2019

क्रिसमस का त्यौहार भारत के साथ-साथ विश्व के अधिकतर देशों में धूमधाम से मनाया जाने वाला है।...

Pradosh Vrat 2019 - जाने प्रदोष व्रत तिथि व पूजा विधि
Pradosh Vrat 2019 - जाने प्रदोष व्रत तिथि व पूजा विधि

हिंदू कैलेंडर के अनुसार प्रदोष व्रत को बेहद खास माना जाता है। यह व्रत त्रयोदशी के दिन रखा जाता है। इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है...

2019 में इस दिन है रमा एकादशी
2019 में इस दिन है रमा एकादशी

रमा एकादशी एक महत्वपूर्ण एकादशी व्रत है जो हिंदू संस्कृति में मनाया जाता है। यह 'कार्तिक'के हिंदू महीने के दौरान कृष्ण पक्ष ...

 2019 में इस दिन पड़ने वाली है पापांकुशा एकादशी
2019 में इस दिन पड़ने वाली है पापांकुशा एकादशी

पापांकुशा एकादशी एक हिंदू उपवास का दिन है जो हिंदू कैलेंडर में 'आश्विन'के चंद्र महीने के दौरान शुक्ल पक्ष की 'एकादशी' (11 वें दिन) पर पड़ता है।...