आचार्य द्विवेदी

आचार्य द्विवेदी

शुल्क :
₹20.00 / Min.
अनुभव :
37 साल 0 महीने
भाषा:
[English] [Hindi] [Punjabi]
ऑफलाइन

आचार्य आरएल द्विवेदी उन प्रख्यात ज्योतिषों में से एक हैं जिनके पास ज्योतिष विद्या के विभिन्न रूपों का अनंत ज्ञान है। आचार्य द्विवेदी पिछले 37 सालों से ज्योतिष विद्या के माध्यम से लोगों को एक सुख समृद्धि जीवन जीने का मार्ग बता रहे हैं। आचार्य जी के पास वैदिक ज्योतिष का ज्ञान तो है ही साथ ही अग्रिम भविष्यवाणी के केपी प्रणाली का उपयोग कर सटीक भविष्यवाणी करने में सक्षम है। केपी यानी कृष्णमूर्ति पद्धति जिसे नक्षत्र ज्योतिष भी कहा जाता है। इस प्रणाली का उपयोग सटीक अग्रिम भविष्यवाणी के लिए सबसे ज्यादा किया जाता है। इसे करना कोई आसान कार्य नहीं है। इस इस प्रणाली के माध्यम से सटीक भविष्यवाणी करने के लिए इस पद्धति की सूक्ष्म जानकारी होना आवश्यक है जो आचार्य दिवेदी जी के पास है। इस पद्धति में 249 तक के अंकों के आधार पर उपनक्षत्र निर्धारित कर सौ फ़ीसदी सटीक भविष्यवाणी किया जा सकता है। इसके लिए केपी पद्धति के साथ-साथ प्रश्न कुंडली का भी ज्ञान होना आवश्यक है जो आचार्य द्विवेदी जी के पास हैं। इस पद्धति में जातक फलादेश के लिए नक्षत्र और उसके उपनक्षत्र का उपयोग किया जाता है तथा अल्प समय के अंतराल में जन्म लेने वाले जुड़वा बच्चों के भिन्न-भिन्न फलकथन के लिए भी इस पद्धति का उपयोग किया जाता है। आचार्य जी प्रश्न शास्त्र में भी निपुण है। प्रश्न शास्त्र वैदिक ज्योतिष की अनेक शाखाओं में से एक महत्वपूर्ण शाखा है। यह एक ऐसी विद्या है जो समय के अभाव में भी एक सही असमर्थ फलित देती है। स्वामी जी इसमें न केवल व्यक्ति से पूछे गए प्रश्न के आधार पर ही निर्णय लेते हैं बल्कि वह जन्म कुंडली और वर्ष कुंडलीको जोड़कर देखते हैं तथा इसके द्वारा वह कर्म की अवधारणा को समझकर व्यक्ति का भविष्य कथन करते हैं। वर्तमान में भी आचार्य जी नदी ज्योतिष पर रिसर्च कर रहे हैं। ब्राह्मण परिवार से संबंध रखने वाले आचार्य द्विवेदी जी पुणे सन 1989 में ज्योतिष विशारद की परीक्षा पास की। यह परीक्षा इंडियन काउंसिल ऑफ एस्ट्रोलॉजीकल साइंस, चेन्नई द्वारा आयोजित किया जाता है। इसके अलावा उनके पास अर्थशास्त्र में भी स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त है तथा वे इंडियन इकोनॉमिक सर्विस से बतौर सीनियर ऑफिसर सेवानिवृत्त भी हैं। नई दिल्ली स्थित लाल बहादुर शास्त्री विद्यापीठ से साल 2002-3 में पुरोहित शिक्षा की परीक्षा भी पास कर चुके हैं। आचार्य द्विवेदी जी को वेस्टर्न एस्ट्रोलॉजी में शोध के लिए टोरंटो (कनाडा) की आर्मस्ट्रांग स्कूल ऑफ एस्ट्रोलॉजी ने स्कॉलरशिप भी दिया है। हस्तरेखा शास्त्र पर स्वामी जी की एक किताब भी प्रकाशित हो चुकी है। आचार्य दिवेदी के ज्योतिष विद्या के प्रेम करने वाले लोगों की कोई सीमा नहीं है। भारत समेत यूनाइटेड किंगडम, अमेरिका और कनाडा में भी लोग आचार्य जी से जीवन में सुख समृद्धि के मंत्र और ज्योतिष समाधान लेने के लिए उन्हें बार-बार बुलाते भी नहीं। आचार्य जी प्रतिदिन सुबह 7:00 बजे से रात के 10:00 बजे तक उपलब्ध रहते हैं तथा वह इंग्लिश हिंदी के अलावा पंजाबी भाषा में भी समाधान करने में सक्षम है।

ज्योतिषी के लिए समीक्षा जोड़ें

No Reviews Yet