एस्ट्रोस्वामीजी की ओर से नववर्ष 2020 की हार्दिक शुभकामनाये! अभी साइन-अप करे और पायें 100 रु का मुफ्त टॉक-टाइम ऑनलाइन ज्योतिष परामर्श पर!

चांदी की अंगूठी पहनने के फायदे (Benefits of wearing silver ring)

भारतीय संस्कृति में महिलाएं काफी सुंदर दिखती है क्योंकि ये खूबसूरत तो होती ही है इसके अलावा जब शरीर पर गहना हो जाए तो बहुत ज्यादा सुन्दर दिखने लगती है। गहने में हर छोटी से छोटी चीज बहुत अच्छी दिखती है और इसमें से एक होती है चांदी की अंगूठी जिसे महिलाएं पहनकर साज-श्रृंगार करती हैं। बता दें कि चांदी के आभूषण सोने की तरह ही महिलाओं की खूबसूरती में चार चांद लगाने में आते है। लेकिन क्या आपको पता है इसके कुछ और भी फायदे है।

चांदी की अंगूठी पहनने का सही तरीका 

दरअसल ज्योतिष महाज्ञानियों के अनुसार चांदी नौ ग्रहों में शुक्र और चंद्रमा से जुड़ा हुआ धातु है। माना जाता है कि चांदी धातु जो भगवान शिव की आँखों से उत्पन्न हुआ था इस कारण ऐसा माना जाता है कि जहाँ चांदी होता है और संपन्नता रहती है और किसी भी चीज की कमी नहीं रहती।

चांदी के आभूषण विशेष रूप से अंगूठी पहनने से शरीर की शोभा तो बढ़ ही जाती लेकिन इसके कई अन्य फायदे भी जो आपको नीचे जानने को मिलेंगे।

सबसे पहले तो आपको मार्केट में जाकर सुनार की दूकान से अपने पसन्द के अनुसार कोई एक चांदी की अंगूठी खरीद लेनी है। फिर गुरुवार की रात को ही पानी में डालकर ऐसे ही छोड़ देना है। अगली सुबह मतलब शुक्रवार के दिन पानी से अंगूठी को भगवान विष्णु के चरणों में रखकर पूर्ण विधि-विधान के साथ पूजा करनी होगी।

इस प्रकार जब अंगूठी की पूजा अर्चना पूर्ण हो जाए तो फिर उसको चंदन लगाना है और साथ ही धूप-दीप दिखाकर अक्षत भी चढ़ाना होगा। इसके बाद अब आप इस अंगूठी को दाहिने हाथ की सबसे छोटी उंगली अर्थात कनिष्ठा में पहन लें।

चांदी की अंगूठी पहनने के वैदिक ज्योतिष फायदे 

ये होते है चांदी की अंगूठी पहनने से सबसे बेहतरीन फायदे

1) ऐसा माना जाता है कि जब आप पूरे विधि-विधान के साथ दाहिने हाथ सबसे छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी पहनते है तो आपकी खूबसूरती में बढ़ोतरी होती है और अगर दाग धब्बे है तो वह ख़त्म होने के चांस बढ़ जाते है।

2) इसके अलावा ज्योतिष शास्त्रों की माने तो दाहिने हाथ की सबसे छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी पहनने से आपका दिमाग सही रहने लगता है और शांत रहता है और गुस्से पर काबू भी होने लगता है।

3) चांदी की अंगूठी आपके मानसिक क्षमताओं को हल करने में बहुत मदद करती है।

4) यदि आपको कोई बीमारियां है जिसमें मुख्यतः अगर जोड़ों में दर्द, खांसी की समस्या या ऑर्थराइटिस तो यह चांदी की अंगूठी वाकई बहुत मदद करेगी आपके स्वास्थ्य के लिए। विश्वास कीजिये।

5) इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति चांदी की अंगूठी पहनना पसंद नहीं करता है वो गले में चैन भी पहन सकते है। ऐसा करने से हकलाने वालों को बहुत लाभ मिलता है।

कुल मिलाकर चांदी हमारे शरीर के लिए शोभा ही नहीं बढ़ाती बल्कि यह कई रोगों और मानसिक तनाव से भी बचाने में मदद करती है। अगर आप चांदी की अंगूठी नहीं पहनते है तो अब शायद जरूर पहन सकते है।

 

जानिए चांदी कैसे आपके जीवन पर प्रभाव डालती हैं।  जानने के लिए  अभी बात करे हमारे जाने माने ज्योतिष्यो से

Recently Added Articles
2020 में कब है बैसाखी (Vaisakhi) पर्व तिथि
2020 में कब है बैसाखी (Vaisakhi) पर्व तिथि

बैसाखी या वैसाखी, फसल त्यौहार, नए वसंत की शुरुआत को बताने के लिए बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है और हिंदुओं द्वारा नए साल के रूप में अधिकांश भारत में...

कब हैं 2020 में गुड़ फ्राइडे तारीख
कब हैं 2020 में गुड़ फ्राइडे तारीख

गुड फ्राइडे ईसाई लोगों के द्वारा मनाए जाने वाला एक त्यौहार है। अक्सर अप्रैल महीने में यह त्यौहार मनाया जाता है।...

पोंगल 2020 पर्व तिथि व शुभ मुहूर्त
पोंगल 2020 पर्व तिथि व शुभ मुहूर्त

Pongal 2020 - पोंगल पर्व दक्षिण भारत में धूमधाम से मनाया जाता है। जानिए पोंगल 2020 पर्व तिथि व शुभ मुहूर्त हिंदी में।...

2020 में अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) कब हैं? तारीख व मुहूर्त
2020 में अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) कब हैं? तारीख व मुहूर्त

अक्षय तृतीया जिसे आखा तीज के नाम से भी जाना जाता है, हिंदू समुदायों के लिए अत्यधिक शुभ और पवित्र दिन है।...


2020 is your year! Get your YEARLY REPORTS now and know what SURPRISES are hidden for you in 2020
Already Have an Account LOGIN